26 C
Mumbai
Thursday, July 18, 2024

Hathras Case : पीड़िता के दाह संस्कार को लाइव देख रहे थे CM YOGI

- Advertisement -spot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_img
Share this

 Hathras Case : पीड़िता के दाह संस्कार को LIVE देख रहे योगी आदित्यनाथ ???

हाथरस गैंग रेप केस की लड़की के जलते हुए शव की तस्वीरें आजकल फेसबुक और ट्विटर पर खूब वायरल है | 
इसी बीच एक और मुख्यमंत्री योगी की एक और तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल की राय जा रही है जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आपत्तिजनक वीडियो देखते हुए दिखाई दे रहे हैं ।

हाथरस कांड
हाथरस कांड

 

Hathras Case : इस वायरल तस्वीर की हकीकत क्या है ?

Hathras Case केस में हुई लड़की के साथ क्रूरता के  2 हफ्ते बाद करीबन 29 सितंबर 2020 को दिल्ली के एक हॉस्पिटल में निधन हो गया | लड़की की निधन के बाद हाथरस पुलिस ने जबरदस्ती रात में ही उसका अंतिम संस्कार भी बिना परिवार की मौजूदगी के करवा दिया ।

लड़की के परिवार वालों का पुलिस वालों पर सीधा-सीधा आरोप है कि पुलिस ने उन्हें जबरदस्ती घर में बंद कर दिया और बिना परिवार वालों के अनुमति के उनकी बेटी का दाह संस्कार भी कर दिया |

 

Hathras Case : बना पुलिस और सरकार के लिए सरदर्द  

जब से HathrasCase खबर सोशल मीडिया में फैली पुलिस प्रशासन व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर निंदा हो रही है | लोग सरकार और पुलिस की संवेदनहीनता पर कड़े प्रश्नचिन्ह खड़ा कर रहे हैं | और तो और लड़की के जलते हुए दाह संस्कार का वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर धड़ल्ले से वायरल हो रही हैं |  जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कंप्यूटर पर हाथरस वाली लड़की का अंतिम संस्कार का वीडियो लाइव बैठकर देख रहे हैं |

Hathras Case में फर्जी पोस्ट Viral 

एक फेसबुक यूजर ने इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा कि हाथरस गैंगरेप पीड़िता को यूपी की कैसे जलाया वीडियो देखता एक नकारा मुख्यमंत्री |

Hathras kand
Hathras kand

Hathras Case में OHINDU TEAM का रिसर्च

 

Ohindu की NEWS TEAM  ने जब इस पोस्ट की छानबीन की तो पाया किया यह तस्वीर पूरी तरह से फोटोशॉप है | इस तस्वीर को फोटोशॉप सॉफ्टवेयर का प्रयोग करके छेड़छाड़ किया गया है | जो ओरिजिनल तस्वीर है उसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए Hathras Case वाली लड़की के परिवार वालों से बात कर रहे हैं। VIRAL PHOTO को अगर आप ध्यान से देखेंगे तो साफ हो जाता है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने रखे कंप्यूटर की स्क्रीन पर अंतिम संस्कार के प्रेम को जोड़ दिया गया है जब Ohindu की टीम ने रिवर्स इमेज सर्च तकनीक के जरिए रिसर्च चालू की तो इस तस्वीर का ओरिजिनल फोटो भी मिला जिसमें वे हाथरस गैंगरेप पीड़िता के पिता से वीडियो कॉल के जरिए कुछ बात करते हुए दिखाई दे रहे हैं |

दरअसल उस वक्त हाथरस गैंग रेप केस की घटना को लेकर पूरे देश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश प्रशासन के खिलाफ आक्रोश था | इसी सिलसिले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़िता के पिता से 30 सितंबर 2020 के दिन वीडियो कॉल के जरिए बात की थी | और जो भी आरोपी हैं उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई का आश्वासन भी दिया था |

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की असली फोटो को कई मीडिया संस्थानों ने पहले ही इंटरनेशनल न्यूज़ एजेंसी एन आई को क्रेडिट देते हुए छापा था | 30 सितंबर को ही ANI NE ओरिजिनल तस्वीर के साथ ट्वीट करते हुए लिखा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हाथरस गैंगरेप केस की पीड़िता के परिवार से बात की |

ठीक इस वीडियो कॉन्फ्रेंस जब खत्म हो गई तब इंटरनेशनल न्यूज़ एजेंसी एनआईए ने  पीडिता के पिता से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बातचीत की उनकी प्रतिक्रिया भी ट्वीटर पर डाली । एन आई ने ट्वीट करते हुए लिखा कि पीड़िता के पिता के हवाले से कि आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात हुई और उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि शीघ्र ही न्याय मिलेगा | हालांकि यह सच है कि हम अपनी बेटी को नहीं देख पाए लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उम्मीद है कि हमें न्याय मिलेगा |

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की असली तस्वीर को सबसे पहले एशियानेट न्यूज और एनडीटीवी ने 30 सितंबर 2020 को छापा था।

 

इसके

Share this
- Advertisement -spot_imgspot_img
Latest news
- Advertisement -spot_img
Related news
- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here